केआरके का दावा कई टुकड़ों में बंटा बॉलीवुड, अक्षय-अजय बने दोस्त और कई सितारे हुए एक-दूसरे के दुश्मन!

0
104

दोस्तों अक्सर अपने बयानों को लेकर विवादों रहने वाले अभिनेता केआरके (कमाल आर खान) बॉलीवुड के उन सितारों में से एक हैं जो फिल्म इंडस्ट्री और सामाजिक-राजनीति मुद्दों पर बेबाकी से बयानबाजी करते रहते हैं। बहुत बार उन्हें अपने बयानों और सोशल मीडिया पोस्ट की वजह से ट्रोलर्स और आलोचना का भी सामना करना पड़ता है। एक बार फिर से केआरके अपने नए बयान को लेकर चर्चा में हैं।

उन्होंने बॉलीवुड फिल्म में कलाकारों की दुश्मनी को लेकर बड़ी बात कही है। केआरके का दावा है कि बॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री में दो ग्रुप बन गए हैं जिसमें से एक ग्रुप देशभक्ति वाला वहीं दूसरी खान ग्रुप है। यह बात केआरके ने सोशल मीडिया के जरिए कही है। वह सोशल मीडिया पर काफी सक्रिय रहते हैं। केआरके अक्सर फिल्मी सितारों को लेकर बयानबाजी करते रहते हैं।

उन्होंने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर लिखा, ‘बॉलीवुड अब साफ तौर से कई ग्रुप्स में बंट गया है। देशभक्त अक्षय कुमार और अजय देवगन सबसे अच्छे दोस्त बन गए हैं, इसलिए वह एक-दूसरे को हर चीज के लिए बधाई देते हैं। जबकि 2 खान दूसरे ग्रुप में हैं। और दूसरे कलाकार भी अलग-अलग ग्रुप में हैं। यानी वह एक-दूसरे के दुश्मन हैं।’ केआरके का यह ट्वीट तेजी से वायरल हो रहा है।

अभिनेता के फैंस और तमाम सोशल मीडिया यूजर्स उनके ट्वीट पर अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं। इससे पहले केआरके अभिनेत्री कंगना रनोट की आलोचना करने की वजह से चर्चा में थे। 1947 में मिली भारत की आजादी को भीख बताने पर उन्होंने कंगना रनोट की आलोचना की। केआरके ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर कंगना रनोट के लिए लिखा, ‘अगर कोई मुस्लिम देश के स्वतंत्रता सेनानियों का अपमान कर देता, आजादी को भीख कह देता तो वह देशद्रोही माना जाता और सालों जेल में रहता। फिर कंगना रनोट को अभी तक गिरफ्तार क्यों नहीं किया गया ?’

अपने इस ट्वीट में केआरके ने गृह मंत्री अमित शाह, दिल्ली, मुंबई हिमाचल और यूपी पुलिस को टैग किया हुआ था । आपको बता दें कि हाल ही में कंगना रनोट एक मीडिया कार्यक्रम में पहुंचीं। इस दौरान उन्होंने अपनी फिल्मी करियर के अलावा देश के सामाजिक और राजनीत्क मुद्दों पर भी अपनी राय दी। कंगना रनोट ने कार्यक्रम में भारत की आजादी को लेकर विवादित बयान दिया था। उन्होंने कहा था कि 1947 में मिली आजादी भीख थी, देश को असली आजादी तो साल 2014 में मिली है।