तारक मेहता का उल्टा चश्मा के अभिनेता ‘आत्माराम भिड़े’ का छलका दर्द, बोले दुबई की नौकरी छोड़कर..

0
11

तारक मेहता का उल्टा चश्मा में आत्माराम तुकाराम भिड़े का किरदार निभाने वाले मंदार चंदवाडकर प्रशंसकों के फेवरेट किरदारों में से एक हैं। वो इस समय अपने शो 14 साल पूरे होने का जश्न मना रहे हैं। इस मौके पर उन्होंने उन दिनों को याद किया जब वह खासा परेशान थे। उन्होंने अपने स्ट्रगल के बारे में वो किस्सा सुनाया जब वह दुबई बेस्ड इंजीनियरिंग की नौकरी छोड़कर एक्टिंग के क्षेत्र में आए थे।

एक्टर ने हाल ही में ई-टाइम्स के साथ बातचीत में बताया कि वह दुबई की एक कंपनी में मेक्निकल इंजीनियर थे और अच्छी खासी नौकरी थी। अपनी जॉब को अलविदा कहा। उन्होंने तय कर लिया था कि वह अपने सपने एक्टिंग को पूरा करेंगे। इस सपने को लिए उन्होंने इस कड़े फैसले पर अमल किया और मुंबई चले आए।

मैं हमेशा कहता हूं कि किसी को हमेशा अपने जुनून को पूरा कर लेना चाहिए और मैंने वही काम किया। यह उस समय काफी जोखिम भरा फैसला था जब मैंने 2000 में अपनी नौकरी छोड़कर दुबई से भारत लौट आया। यह एक कठिन फैसला था क्योंकि बहुत सीमित चैनल थे लेकिन मैं हमेशा अपने जुनून का पालन करने के बारे में दृढ़ता से महसूस करता था और मैं अभिनेता बनना चाहता था। मुझे 2000 से 2008 तक काफी संघर्ष करना पड़ा, लेकिन मुझे खुशी है कि सब कुछ वास्तव में अच्छा रहा है। मैंने अपने संघर्ष की अवधि के बाद तारक मेहता को हासिल किया और बाकी इतिहास है।

एक्टर ने कहा, मेरे पास आज जो भी कुछ है, मैं इसके लिए बहुत शुक्रगुजार हूं। मुझे मेरे संघर्ष के दिनों में तारक मेहता शो मिल गया और फिर आज जो कुछ है सबके सामने है। बता दें कि हाल ही में शो के क्रिएटर असित मोदी ने इंडियन एक्स्प्रेस बात करते हुए बताया था कि सोनी पिक्चर्स री-फॉर्मेट हो रहा था। वह सब कॉमेडी चैनल में तब्दील होने वाला था।

चैनल के सीओओ एनपी सिंह ने मेरे से पूछा कि क्या करना है? उन्हें शो का कॉन्सेप्ट बहुत अच्छा लगा था, लेकिन शो के लिए बजट नहीं था। मुझे पता था कि मुझे शो को लेकर नुकसान होने वाला है। मेरी पत्नी और टीम ने मुझे संतावना दी और कहा कि कुछ तो करते हैं। मैंने इसे चैलेंज की तरह लिया। अपने अंदर की बात सुनी। हमनें हार्डवर्क किया और देखिए शो को 14 साल हो गए हैं। ऐसा लगता है कि हमने अभी तो शुरुआत की थी। और मैं आज इस शो को लेकर बहौत खुश हैं।